Thursday, April 2, 2020
Home News India News ‘राहुल गाँधी कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद पर नहीं लौटते हैं तो पार्टी को...

‘राहुल गाँधी कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद पर नहीं लौटते हैं तो पार्टी को सक्रिय-पूर्णकालिक नेतृत्व तलाशने की जरूरत’

[ad_1]

कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर एक बार फिर पार्टी नेताओं के बीच चर्चा का विषय है। पार्टी में अध्यक्ष पद को लेकर फैसले में देरी और इसके लिए चुनाव कराने की मांग लगातार चल रही है। इस बीच, पार्टी का हर नेता अपनी अपनी राय दे रहा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने रविवार (23 फरवरी, 2020) को कहा कि अगर राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष के पद पर वापस नहीं आते हैं, तो पार्टी को आगे ले जाने के लिए ‘सक्रिय और पूर्णकालिक नेतृत्व’ खोजने की जरूरत है।

उन्होंने आगे कहा कि ऐसी भावना है कि कांग्रेस को ‘ब’र्बर’ किया जा रहा है और इसलिए पार्टी को फिर से खड़ा करने के लिए नेतृत्व के मुद्दे को हल करना होगा। इससे पार्टी और मजबूत होगी। वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) का चुनाव एक ऊर्जावान नेतृत्व टीम का निर्माण करेगा और इससे पार्टी में राष्ट्रीय हित बढ़ सकते हैं। समाचार एजेंसी पीटीआई से विशेष बातचीत में तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर ने यह बात कही।

यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी अध्यक्ष पद पर नहीं लौटते हैं, तो प्रियंका गांधी को पद संभालना चाहिए, थरूर का कहना है कि किसी भी कांग्रेस नेता को उनके नाम को आगे बढ़ाने पर कोई आपत्ति नहीं होगी। उन्होंने कहा, “मैं विशेष रूप से चाहता हूं कि पार्टी अध्यक्ष का चुनाव होने पर वह अपना नाम आगे रखें। प्रियंका गांधी का करिश्मा है। लेकिन यह सब उन पर निर्भर करता है और हमें इसका सम्मान करना चाहिए।”

दूसरी ओर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने रविवार को कहा कि राहुल गांधी कांग्रेस के सामान्य हैं और अब उन्हें नेतृत्व संभालना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि वर्तमान समय की चुनौतीपूर्ण स्थिति में युवा नेताओं को आगे बढ़ना चाहिए और वरिष्ठ नेताओं को उनका अनुसरण करना चाहिए। कोई भी वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के साथ काम करने में किसी भी समस्या का सामना नहीं कर सकता है।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाने की मांग की गई है। लोकसभा चुनावों में पार्टी की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया और पार्टी ने अंतरिम अध्यक्ष के रूप में सोनिया गांधी को चुना। राहुल ने अध्यक्ष के रूप में पार्टी में लौटने के नेताओं के अनुरोध को ठुकरा दिया।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने टिप्पणी की थी कि राहुल गांधी कांग्रेस के ‘शीर्ष नेता’ बने हुए हैं, पार्टी का एक बड़ा वर्ग हमेशा यह चाहता है कि वह पार्टी अध्यक्ष बनें। खुर्शीद ने कहा था कि राहुल गांधी अभी भी शीर्ष नेता बने हुए हैं। और कोई अन्य शीर्ष नेता नहीं है। लेकिन पार्टी में अन्य नेता भी हैं जिनका अपना महत्व है, जिन्होंने कांग्रेस पार्टी में योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का विरोध करने वाले दल किसी और से उस पर हमला करना जारी रखते हैं, यह दर्शाता है कि वह अभी भी शीर्ष नेता बने हुए हैं।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Must Read

पंड्या ने ठोके 55 गेंदों में 158 रन, डॉ. डी.वाय. पाटिल टी20 कप में लगाया तीसरा शतक

टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या इस वक्त शानदार फॉर्म में चल रहे है। वह इस वक्त डॉ. डी.वाय. पाटिल टी20 कप...

महिला टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पत्नी एलिसा को सपोर्ट करने स्वदेश लौटेंगे मिशेल स्टार्क

ऑस्ट्रेलिया की पुरुष क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क दक्षिण अफ्रीका दौरा बीच में छोड़कर ऑस्ट्रेलिया रवाना होंगे। दरअसल 8 मार्च...

कमलनाथ सरकार का संकट और गहराया, दिग्विजय फंसे अपने हीं जाल में

मध्यप्रदेश में राजनीतिक घटनाक्रम लगातार बदल रहे हैं! सपा विधायक राजेश शुक्ला ने विधायकों को बंधक बनाए जाने और करोड़ों रुपये के प्रस्तावों...